आरामदायक कुर्सी नहीं देती शरीर को आराम

loading...

आजकल ज्यादातर दफ्तर 8-10 घंटे आपको एक ही सीट पर बैठने को मजबूर करते हैं. सोचिए आप अपनी जिंदगी का कितना बड़ा हिस्सा बैठकर निकलते हैं. ऐसे में कितना जरूरी है ये देखना कि आप ठीक से बैठें, जिससे आपके जीवन पर बुरा प्रभाव न पड़ सके.

हम यात्रा के दौरान अक्सर आरामदायक सीट ओर बैठने के भी जब उठते हैं तो थकान महसूस करते हैं इस क्यों होता है? आप ये जान कर हैरान हो जाएंगे कि इस तरह से आराम में बैठने से आप आयु को कम करते हैं.

आराम से बैठना सभी को पसंद होता है. कुर्सी पीछे की तरफ झुकी हुई ही होनी चाहिए, तभी कमर को आराम मिलता है. लेकिन क्या आपको सच में आराम मिल रहा है? इससे शरीर का संतुलन बिगड़ रहा है, आपका मेरुदंड टेढ़ा हो रहा है. इससे भले ही कुछ देर का आराम मिले लेकिन, ये आने वाली समस्याओं को न्यौता देना है.

कमर को सीधा रखें
कमर को सीधा करके बैठना शरीर को आराम से वंचित रखना ही नहीं हैं. कुछ लोग रीढ़ की हड्डी को सीधा रखकर मांसपेशियों को आराम में रखने की आदत डालते हैं. यकीन मानिए इसकी आदत होने में ज्यादा समय नहीं लगेगा. एक बार आप संतुलन बना लेंगे उसके बाद आपको परेशानी नहीं होगी.

और अंगों का सोचें
कुर्सी को पीछे करके बैठने पर सिर्फ कमर आराम करती है, बाकी अंग सबसे ज्यादा थकने की अवस्था में होते हैं. आप ठीक तरह से समझने के लिए इस उदाहरण को लें. हमारे शरीर के ज्यादातर महत्वपूर्ण अंग छाती और पेट में एक थैलीनुमा आकार में बंद है. ये अंग लचीले और बिना हड्डी के होते है. शरीर सीधा रहने पर ही ये अपनी जगह बने रहते है और पीछे झुकने पर ये लटक जाते हैं.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*